आदिवासियत बचाओं यात्रा- 2023″ महादेव सिरवेल का तीसरा दिन

 !! “आदिवासियत बचाओं यात्रा- 2023” महादेव सिरवेल का तीसरा दिन !! 

दिनांक 5 जनवरी, 2023 को महादेव सिरवेल, तहसील भगवानपुरा, जिला खरगोन, मध्य प्रदेश से प्रारंभ हुई आदिवासियत बचाओ यात्रा 2023 का आज तीसरा दिन ग्राम पांजरिया, तहसील वरला से प्रातः 9:00 बजे से प्रारंभ हुई । रूट पर पड़ने वाले गांव का विवरण इस प्रकार है :-

धवली :- पटेल फलिया में यात्रा का स्वागत किया गया । जहां पर यात्रा में चल रहे अनिल रावत- राष्ट्रीय अध्यक्ष आदिवासी एकता परिषद द्वारा यात्रा के उद्देश्य एवं 13-14-15 जनवरी, 2023 हमीरपुरा, तहसील कवांट,जिला छोटा उदयपुर गुजरात में होने वाले महासम्मेलन की जानकारी दी गई और गांव के लोगों को अधिक से अधिक संख्या में महासम्मेलन में आने का निमंत्रण दिया गया यात्रा । धवली चौक पर वीर शहीद खाज्या नाईक के गाता पर फूल माला एवं पुष्प अर्पित कर आदरांजली दी गई और मौके पर उपस्थित लोगों को पोरलाल खर्ते जी के द्वारा आदिवासियत के बारे में बताया गया और कहा कि हमें जात पात, धर्म, पंथ व राजनीतिक विचारधारा से ऊपर उठकर भाईचारे एवं प्रेम से जीने का संदेश दिया गया । काले-गोरे, गरीबी-अमीरी, धर्म-धर्म एवं पंथ पार्टी आदि का भेद मिटाने की बात की गई ।

आदिवासियत बचाओं यात्रा- 2023" महादेव सिरवेल का तीसरा दिन


⏭️ गेरूघाटी :- गेरूघाटी में जैसे ही आदिवासियत बचाओं यात्रा का आगमन हुआ पहले से ही इंतजार कर रहे समाज के कार्यकर्ताओं द्वारा आदिवासी पारंपरिक वाद्य यंत्र ढोल बजाकर पुष्प वर्षा करते हुए स्वागत किया गया । यात्रा में चल रहे कार्यकर्ताओं द्वारा गेरूघाटी चौक पर स्थित क्रांतिकारी वीर शहीद टंट्या भील के गाथा पर माला व पुष्प अर्जित कर आदरांजलि अर्पित की गई और सभा का आयोजन किया गया । जिसमें अनिता बहन सोलंकी राष्ट्रीय अध्यक्ष आदिवासी एकता परिषद (महिला प्रकोष्ठ),सिलदार सोलंकी यात्रा प्रभारी, भायलाल डावर, दूर सिंह पटेल अध्यक्ष पटेल संसद संघ जिला बड़वानी आदि के द्वारा समाज की समस्याओं के निराकरण हेतु समाज को संगठित करने की बात कहते हुए नारी शक्ति को आगे आने की बात कही गई । वहां से यात्रा शासकीय माध्यमिक विद्यालय गेरूघाटी में विद्यार्थियों द्वारा स्वागत अभिवादन किया गया तथा सभा का आयोजन किया गया । जिसमें एडवोकेट चेनसिंह अछालिया ,एडवोकेट सागर खर्ते ,मोंटू भाई सोलंकी जयश जिलाध्यक्ष बड़वानी, सीताराम बर्डे जनपद पंचायत उपाध्यक्ष सेंधवा, सिलदार भाई सोलंकी और पोरलाल खर्ते जी द्वारा विद्यार्थियों को मार्गदर्शन दिया गया एवं आदिवासी संस्कृति के बारे में विस्तृत से जानकारी दी गई ।

⏭️ कालीकुंडी – काली कुंडी में दो जगह पर यात्रा का स्वागत किया गया एवं सभा का आयोजन किया गया । पटेल फलिया में कुछ दिन पूर्व ही मृत्यु हुई आपवासी परसराम पटेल जी को सभा में उपस्थित समस्त लोगों द्वारा 2 मिनट का मौन रखकर आदरांजली दी गई । दूरसिंह पटेल,राजकला सोलंकी-जिला पंचायत सदस्य सीताराम बर्डे एवं भायलाल डाबर द्वारा यात्रा एवं कार्यक्रम के बारे में जानकारी दी गई । 

⏭️माटियामेल – आप थावरिया पटेल के छोटे भाई का देहांत होने के कारण सभा ना करते हुए आदरांजली दी गई और यात्रा आगे के लिए रवाना हो गई ।


⏭️निशानियांपानी – यात्रा का स्वागत किया गया । सभा के दौरान भायलाल डाबर, देवा जाधव एवं अनिल रावत जी के द्वारा यात्रा का उद्देश्य बताया गया और महासम्मेलन में आने का निमंत्रण दिया गया ।


⏭️ खपाड़ा- पहले से ही इंतजार कर रहे ग्राम वासियों द्वारा आदिवासी एकता जिंदाबाद के नारे लगाते हुए पुष्प वर्षा कर स्वागत अभिनंदन किया गया। सभा का आयोजन किया गया । जिसमें दूरसिंह पटेल, अनिता बहन सोलंकी के द्वारा यात्रा का उद्देश्य दिया गया एवं नारी शक्ति को नारी शक्ति को आगे आकर अपने हक अधिकार के लिए लड़ने की बात कही गई ।


⏭️ अजगरिया- कुछ दिन पूर्व ही मृत्यु हुई दर्जी पटेल को यात्रा के साथियों के द्वारा आदरांजली दी गई एवं संक्षिप्त में यात्रा के उद्देश्य के बारे में बताया गया और महासम्मेलन में आने का निमंत्रण दिया गया । 


⏭️निरगुड़िया- अनिल रावत खूम सिंह चौहान जी के द्वारा यात्रा का उद्देश्य बताया गया और महासम्मेलन में आने का निमंत्रण दिया गया ।


⏭️उमरियापानी – यात्रा का पुष्प वर्षा से स्वागत किया गया । सभा को सुनील नरगावे-आदिवासी छात्र संगठन (एसीएस),परसराम सेनानी, दूरसिंह पटेल, भायलाल डावर एवं पोलाल खर्ते जी के द्वारा समाज को संगठित करके ही हम अपने हक अधिकार के लिए लड़ सकेंगे इस बात पर जोर दिया गया और महासम्मेलन में आने का निमंत्रण दिया गया तथा दोपहर का भोजन शाम को 7:00 बजे किया गया ।


⏭️जामटी- यात्रा का उद्देश्य बताया गया और महासम्मेलन में आने का निमंत्रण दिया गया ।


⏭️ दुगानी – वीर एकलव्य के गाता पर फूल माला एवं पुष्प अर्पित कर आदरांजलि दी गई तथा ग्राम वासियों को महा सम्मेलन में आने का निमंत्रण दिया गया ।


⏭️ दूधखेड़ा – लगभग शाम को 9:00 बजे यात्रा का बेसब्री से इंतजार कर रहे ग्राम वासियों द्वारा पुष्प वर्षा करते हुए पारंपरिक वाद्य यंत्र ढोल मांदल बजाकर नाचते हुए स्वागत अभिवादन किया गया यहां पर विद्यार्थियों की संख्या अधिक थी । सभा दूरसिंह पटेल, अनीता सोलंकी, मोंटू सोलंकी, सीलदार सोलंकी एवं पोरलाल जी के द्वारा गांव को व्यवस्थित चलाने हेतु गांव के पंचों को महत्व देने की बात कही गई एवं पटेल, पुजारा, गांव डाहला, वारती, कोटवाल को भी अपनी जिम्मेदारी निस्वार्थ भाव से बिना किसी भेदभाव के निभाने की बात कही गई । शाम का भोजन करवाया गया और रात्रि विश्राम किया गया ।


⏭️ दिनभर की पूरी यात्रा के दौरान नशा मुक्ति, शिक्षा, स्वास्थ्य, संस्कृति, एकता, देजा तथा प्राकृतिक एवं संवैधानिक अधिकार के बारे में जानकारी दी गई ।


⏭️ आज दिनभर की यात्रा के दौरान जगह जगह पर स्वागत, चाय नाश्ते तथा भोजन की व्यवस्था करने हेतु प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से सहयोग करने वाले साथियों का हम तहे दिल से शुक्रिया अदा एवं आभार व्यक्त करते हैं ।

⏭️ आज दिनांक 8 जनवरी 2023 का यात्रा का रूट इस प्रकार है :-

दुधखेड़ा ➡️ बलवाड़ी ➡️ शैली➡️ वरला➡️ खारिया➡️ बाखरली➡️ मेंदल्यापानी ➡️ कुण्डिया ➡️ मालवन ➡️ सोलवन रात्रि विश्राम 

   अतः यात्रा के रूट में पड़ने वाले गांव एवं आसपास के गांवों के कार्यकर्ताओं से निवेदन हैं कि 

यात्रा का स्वागत करते हुए सभाओं का आयोजन करवाए एवं यात्रा को अपने अपने वाहनों से अगले गांव तक पहुंचाने में अपना अमूल्य योगदान देवें।

अनिल रावत -राष्ट्रीय अध्यक्ष, आदिवासी एकता परिषद 

अनिता सोलंकी -राष्ट्रीय अध्यक्ष, आदिवासी एकता परिषद (महिला प्रकोष्ठ)

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *