Sports Management |What do you do in sports management? |best career options in sports

Sports Management |  What do you do in sports management? | best career options in sports

करियर ऑप्शन.

Sports Management, प्लेयर (खिलाड़ी), फ़िज़िकल एज्युकेशन इंस्ट्रक्टर, कोच, Sports मैनेजर, Sports एडमिनिस्ट्रेटर, एम्पायर या रेफ़री, Sports मेडिसिन (यदि आप मेडिकल फ़ील्ड से जुड़े हैं),  Sports Management, आदि, स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट से जुड़े पद हैं. इसके अलावा कई निजी व सरकारी Sports इंस्टिट्यूट भी कई तरह के स्पोर्ट्स स्पॉन्सर करते हैं. वहां भी Sports टीचर, कोच आदि की ज़रूरत होती है. आप किसी Sports क्लब में मैनेजर के रूप में भी काम कर सकते हैं.

शैक्षणिक योग्यता.

Graduation में कम से कम 40% मार्क्स होने ज़रूरी हैं. Sports से जुड़ा कोई कोर्स करना भी ज़रूरी है, जैसे-बैचलर इन फ़िज़िकल एज्युकेशन आदि.

क्या सिखाया जाता है?.

Sports Management में सोशल और एथिकल रिलेवेन्स ऑफ़ Sports Management, स्पॉन्सरशिप, मार्केटिंग एंड मर्चन्डाइस ऑफ़ Sports, इंटररिलेशनशिप बिटवीन फ़ायनांस एंड Sports, कम्युनिकेशन विद इलेक्ट्रॉनिक एंड प्रिंट मीडिया, sports संबंधी क़ानून का ज्ञान, स्पोर्ट्स एथिक्स की जानकारी, Sports ऑर्गनाइजेशन आदि बातों पर ज़ोर दिया जाता है.

Sports मैनेजर का क्या काम होता है?

Sports मैनेजर को स्पोर्ट्स एजेंट भी कहते हैं. Player के शेड्यूल, करियर प्रोग्रेशन, Business प्रमोशन, मीडिया एंड पब्लिक रिलेशन संबंधी काम Sports मैनेजर के होते हैं. साथ ही बजटिंग, Finance से जुड़ी ज़िम्मेदारी भी उसी के कंधों पर होती है.

Sports एडमिनिस्ट्रेटर का काम.

सुपरवाइज़िंग के साथ-साथ sports एडमिनिस्ट्रेटर Sports एक्टिविटी व इवेंट की प्लानिंग और उसे मैनेज भी करता है, जैसे- नेशनल व डोमेस्टिक क्रिकेट,हॉकी, फुटबॉल, गोल्फ़ टूर्नामेंट आदि.

ज़रूरी योग्यताएं 

कम्युनिकेशन स्किल अच्छी होनी चाहिए. क्रिकेट, Hockey , फुटबॉल आदि में से किसी एक खेल के प्रति पैशनेट होना ज़रूरी है.

खेल के प्रति ईमानदार व उत्सुक होना चाहिए.

संबंधित खेल के Rules , Regulations और क़ानून की पूरी जानकारी होनी ज़रूरी है. लीडरशिप या कैप्टनशिप Quality होनी चाहिए. शारीरिक रूप से पूरी तरह स्वस्थ होना भी ज़रूरी है.

कमेंटीटर बनकर बनाये अपना करियर.

Sports एक ऐसा क्षेत्र है जहाँ यदि आपका खेलों के प्रति जनून है और किसी भी कारण की वजह से इसमें बतौर खिलाड़ी सफल नहीं हो सके तो आप खेल कमेंटेटर बन सकते है| केवल cricket ही नहीं बाकी अन्य खेलों में भी कमेंटेटर कि आव्श्यक्का होती है और इस फील्ड में भी आगे काफी अच्छे करियर स्कोप है|

Sports टीचर बनकर बनाये अपना करियर.

स्कूल में आजकल बच्चो की बेहतर ग्रोथ के लिए एक्स्ट्रा एक्टिविटिज पर विशेष रूप से ध्यान दिया जाता है| इसी के चलते स्कूलों में इन दिनों अच्छे Sports टीचर की काफी अच्छी डिमांड रहती है| तो जिन छात्रों को Sports में अच्छी रूचि है वह Sports टीचर का भी आप्शन अपने आगे के करियर के लिए चुन सकते हैं|

साइकोलॉजिस्ट बनकर बनाये अपना करियर.

Sports के खेलों में हार – जीत के लिए खिलाड़ियों को स्वस्थ रखना बड़ी चुनौती है| साइकोलॉजिस्ट अनुसार स्वास्थ का एक बहुत बड़ा पहलु मनोविज्ञान से भी जुड़ा है| किसी खिलाड़ी को मैदान में जाने से पहले कैसे प्रेरित और प्रोत्साहित करना है, साइकोलॉजिस्ट उसे मानसिक तौर पर मजबूत कर आत्मविश्वास के लिए हमेशा एक साइकोलॉजिस्ट की जरुरत होती है|

Sports Management |  What do you do in sports management? | best career options in sports
Sports Management | What do you do in sports management? | best career options in sports


English Mining…

Sports Management, Career option.

Sports Management, Player (Player), Physical Education Instructor, Coach, Sports Manager, Sports Administrator, Empire or Referee, Sports Medicine (if you are associated with medical field), Sports Management, etc., are the posts associated with Sports Journalist. Apart from this, many private and government sports institutes also sponsor many types of sports. There is also a need for sports teachers, coaches etc. You can also work as a manager in a sports club.

Educational Qualifications.

It is necessary to have at least 40% marks in graduation. It is also necessary to do any course related to sports, such as Bachelor in Physical Education etc.

What is taught?

Sports Management emphasizes on Social and Ethical Relevance of Sports Management, Sponsorship, Marketing and Merchandise of Sports, Interrelationship between Finance and Sports, Communication with Electronic and Print Media, Knowledge of Sports Law, Knowledge of Sports Ethics, Sports Organization etc. goes.

What is the job of a Sports Manager?

Sports manager is also called sports agent. Player’s schedule, career progression, business promotion, media and public relations related work are done by Sports Manager. Also, the responsibility related to budgeting, finance is also on his shoulders.

Sports administrator job.

Along with supervising, the sports administrator also plans and manages sports activities and events, such as national and domestic cricket, hockey, football, golf tournaments etc.

Essential Qualifications

Must have good communication skills. It is important to be passionate about any one sport out of cricket, hockey, football etc.

Must be sincere and curious about the game.

It is important to have complete knowledge of the Rules, Regulations and Laws of the respective sports. There should be leadership or captaincy quality. It is also important to be completely physically fit.

Make your career as a commentator.

Sports is such a field where if you have passion for sports and due to any reason you could not succeed as a player, then you can become a sports commentator. Not only cricket, other sports also require a commentator and there is a good career scope ahead in this field as well.

Make your career by becoming a sports teacher.

In the school nowadays, special attention is paid to extra activities for better growth of the children. Due to this, there is a good demand for good sports teachers in schools these days. So the students who have good interest in sports can also choose the option of sports teacher for their further career.

Make your career by becoming a psychologist.

It is a big challenge to keep the players healthy for winning and losing in sports games. According to psychologist, a very big aspect of health is also related to psychology. How to motivate and motivate a player before going on the field, psychologist Always need a psychologist to make him mentally strong and confident.

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *