भगौरिया पर्व की पूरी जानकारी पढें. History Of Bhagoria Hat 

भगौरिया पर्व कहानी : History Of Bhagoria Hat

झाबुआ अंचल के राजा कसूमर डामोर ने Bhagoria Hat की शुरआत राजधानी भगोर में इस उत्सव को सन् १००९ में प्रारंभ किया था और प्रति वर्ष मनाने से राजा कसूमर डामोर ने भगौर से भगौरिया नामांकरण किया राजा कसूमर डामोर भगौरिया उत्सव के संस्थापक थे। ( History Of Bhagoria Hat )

राजा कसूमर डामोर अपने परिवार के साथ एक उत्सव मनाने भगोर के मैदानी क्षेत्र में भील प्रजा समूह के साथ जाया करते थे। यह उत्सव लगभग सन् १००९ के आसपास की बात है। जब भील प्रजा भगोर में चारों दिशा के गाँव से चलकर यह पर्व हर्षउल्लास के साथ मनाने आया करते थे । जिसमें सभी वर्ग के लोग उतसाह से भाग लेते थे के. डामे । ( History Of Bhagoria Hat )

Bhagoria Hat पर परिधान कैसा रहता

(History Of Bhagoria Hat ) : खासकर युवक युवतीयाँ आकर्षक परिधान सोना-चाँदी के गहनों से लदी होती थी और सजधज कर उत्सव का आनंद उठाती थी। हर गाँव के भील युवक अपने गाँव का बड़ासा मांदल, थाली बजाने लाया करते थे। मादल की थाप पर भील युवक युवतीयाँ बाहों में बाहे डाल कर आमने-सामने नाच गान प्रस्तुत किया करते थे ।

Bhagoria Hat पर वेशभूषा कैसे होती है ।

हजारों की संख्या में भील युवक अपना प्रिय वाद्य बांसुरी की सुरीली आवाज में बजाकर वातावरण को मोहक बना देते थे । भील लोग आकर्षक वेशभूषा के साथ मादल, थाल, बांसुरी, गोफन, फलीया और तीर कमान के साथ बड़ी संख्या में उपस्थित होते थे ।

यह भी पढें | आदिवासी होळी कैसे मनाते हें | 

भगौरिया पर्व नृत्य कैसा होता है ।

भील युवक भीली शैली में सफेद रंग की छोती को लपेट कर पहनते थे उपर काले रंग की बड़ी (झुलडी) एवं सिर पर सफेद रंग का बड़ा सा साफा पहन कर आते थे । साफे में कलगी और गोफन बन्दी होती थी। भील महिला रंगीन घेरवाला घाघरा पोलका पहनकर गले में हासली पैरो व बाहों में चाँदी के कड़े चुडीयाँ विशेष आकर्षक का केन्द्र होती थी सभी भील जन मांदल की थाप पर झूम झूम के नृत्य करते है । (History Of Bhagoria Hat )

2024 Bhagoria Hat Time Table click Here 

Bheel Sanju Damor Jhabua ✍️

हम हमारे सोसिअल मीडिया में ऐसेही अन्य जानकारी शेअर करते रहते | हमारे सोसिअल मीडिया लिंक पर जाकर फॉलो करें | या फिर आपको आपकी Instagram चॅनेल, You Tube Channel, WhatsApp Channel, Facebook Channel, को ग्रो करावना चाहते हो तो सबसे पहले हमारे चॅनेल को फॉलो करें | और हम अपने सारे दोस्तो को फॉलो करने को कहेंगे.

Important Link

You Tube Channel Link

WhatsApp Channel Link

Instagram Channel Link

Facebook Channel Link

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *